Backlinks Kya Hei ? Full Information About Backlinks in Hindi

Backlinks Kya Hei ? Full Information About Backlinks in Hindi

BackLinks Kya Hei ? Full Information About Backlinks in Hindi

Namaskar Dosto, Aaj Hum Is Article Mein  Backlinks Kya Hei , Backlink Kaam Kyse Karte hei ? Puri Janakari Apko is Article Mein Milnewale hei , So Post Ko pura read Kare aur Jane ki Backlink Kya hei and Kyse kam Karte hei .

Dosto BackLinks  Pehle Itna Jyda Matter Nehi Karta tha, Lekin Aaj Blogging Ki Duniya Mein Backlinks Bina Post Rank Karana Mumkin hi Nehe, Kamiakin Ho Gaya. Isiliye Dosto Ek Acche Blogger Banna Chahte ho to Backlinks Ke Bare Mein knowledge Hona hi padega. Dosto “Backlink” search engine optimization Mein use Hone Wale  Se Mein Ek Hei. Bohut Se bloggers, Jinhone recently blog /website  Suru Kiya he, Unhe backlinks  Ke Matlab hi samajme Mei muskil Hote hei.

Mein ummid Karta hu ki Aap Yeh post Padnr Ke Baat Backlinks Ko Accho Tarah Se Samaj Payenge .

Backlink Kya Hei?

Backlinks Kisi  Webpage Par Ane Wale Incoming links Hei.

Dosto Jab koi Kisi bhi Other WebPage Ke Sath link  hota hei toh useh “Backlink Kahete Hei”

First webPage Ki Ranking Ke Liye Backlink behot hi major facto hote hei. Koi bhi page , jiska jitna jyda backlink hoga wohi sabse upper-rank Karega.

Backlink Ke Kuch Important Jankari

  • Link Juice: जब कोई webpage आपके किसी भी article या आपकी website के homepage को link करता है, तो वह link juice pass करता है। यह link juice article की ranking में help करता है और domain authority को भी improve करता है। As a blogger, आप no follow tag का use करके link juice को pass होने से रोक सकते हैं।
  • Nofollow Link: जब कोई website किसी दूसरी website को link करती है पर उस link के पास no follow tag होता है, तो  link juice pass नहीं करता। Page की ranking के लिए Nofollow links useful नहीं हैं क्योंकि वह कुछ भी contribute नहीं करते। आम तोर पर, एक webmaster no follow tag तब use करता है, जब वह किसी unreliable site से link out करता है। Example: दुसरे blogs पर comments से links.
  • Do-follow link: By default, वह सभी links जो आप blog post में add करते हैं, वे do-follow links होते हैं और यह link juice pass करते हैं।
  • Linking Root Domains: आपकी website पर किसी unique domain से कितने backlinks आ रहें हैं, ये उसको refer करते हैं। Even यदि कोई website आपकी website से 10 बार link करती है तो फिर भी उसे एक linked root domain consider किया जायेगा
  • Low Quality Links: Low Quality Links वे links हैं जो कि harvested sites, automated sites, spam sites और even porn sites से आते हैं। यह links बहुत नुक्सान पहुंचते हैं। यह एक कारण है की आपको backlinks खरीदने समय सावधानी रखनी होगी।
  • Internal Links: वे links जो same domain के अंदर ही एक page से दुसरे page को link करते हों, उन्हें internal links कहा जाता है और खुद इस process को internal linking कहा जाता है।
  • Anchor Text: वह text जिसे hyperlink के लिए use किया जाता हो, उसे Anchor Text कहा जाता है। Anchor text backlinks तब बढ़िया work करते हैं जब आप particular keywords के लिए rank करने के लिए try कर रहे हों।

Backlinks बनाने पर SEO में क्या फायदा होता हैं

इससे पहले कि मैं backlinks के advantages की बात करूँ, आपको पता होना चाहिए कि पिछले कुछ सालों में Backlinks में बहुत कुछ बदल गया है।

वह समय था जब even low-quality backlinks भी site की ranking में help करते थे। पर जबसे Google ने अपनी Penguin algorithm को roll out किया है तबसे backlinking की सारी जमीन बदल गयी है।

Quality sites से backlinks होना जरूरी है और ये backlinks contextual होने चाहिए।, For Example, यदि आपकी website cooking के बारे में है तो आपकी Backlink cooking यह इसके related site से हो.

चलिए अब इस पर नज़र मारते हैं कि आपको site के लिए backlinks बनाना क्यों important है.

1. Organic Ranking Improve होती है:

Backlinks better search engine rankings प्राप्त करने में मदद करते हैं। यदि आपका कोई भी content, दूसरी sites से organic links प्राप्त करता है तो naturally ही वह content search engine में higher rank प्राप्त करता है। आपका goal, homepage के साथ individual post/pages के लिए link create करने का होना चाहिए।

2. Site की faster Indexing:

Backlinks search engine bots को आपकी site के links discover करने और उन्हें effectively crawl में help करते हैं। Especially, एक नयी website के लिए, backlinks प्राप्त करना जरूरी होता है क्योंकि ये sites की faster discovery और indexing में help करते हैं।

3. Referral Traffic:

Backlinks का एक major benefit ये भी है की ये referral traffic (Traffic जो आपके ब्लॉग पर search engine से नहीं आता बल्कि किसी और ब्लॉग के link  के through आता हैं ) लाने में help करते हैं।

आम तौर पर referral traffic targeted होता है और इसका bounce rate (bounce rate आपके वेबसाइट पर आने वाले visitors का वो percentage है जो एक बार आपकी वेबसाइट पर आकर पोस्ट को पढ़े बिना ही लौट जाते है) कम होता है।

Backlinks प्राप्त करना कैसे शुरू करें

तो अब आपको “backlink” term का meaning समझ लग गया होगा क्योंकि ये SEO से relate करता है। अब समय है backlinks generate करने के लिए, कुछ simple techniques learn करने का।

एक important fact जो आपको mind में रखना होगा कि SEO में Backlink का नंबर matter नहीं करता बल्कि links की quality matter करती है।

यदि आप अपनी site के लिए links प्राप्त करने के लिए किसी paid service का use करते हैं तो आपको Google Penguin’s algo द्वारा penalized किये जाने की सम्भावना है।

Quality Backlinks प्राप्त करने के लिए, कौन-कौन से तरीके हैं?

  • Awesome articles लिखें।
  • Commenting शुरू करें।
  • Site को Web directories में submit करें।

1. Awesome articles लिखें:

यह आपके blog के लिए backlinks प्राप्त करने का best और सबसे बढ़िया तरीका है। Tutorials और Top 10 articles, बढ़िया examples है, दूसरी websites से references के तौर पर backlinks प्राप्त करने के। ऐसे articles proper research और practical examples पर based होते हैं।

2. Commenting शुरू करें:

Comments backlinks प्राप्त करने के लिए आसान और सबसे अच्छा हैं।

Dofollow forums, Dofollow blogs और WordPress blogs पर भी top commentator plugins का यूज़ करके commenting करना शुरू करें।

Latest News ने ये suggest किया है कि no follow links इतना matter नहीं करते पर किसी blog पर commenting करने पर link juice बनने में benefit होगा। Commenting one-way solid backlinks बनाने में, ज्यादा traffic लाने में और search engine visibility बढ़ाने में help करती है।

3. Site को Web directories में submit करें:

अपने blog या site को web directories में submit करना backlinks प्राप्त करने का एक और बढ़िया और easy तरीका है। ये method आज-कल popular नहीं है क्योंकि legal web directory find करना कोई easy बात नहीं है। Especially आपको ऐसी web directories को avoid करना चाहिए जो आपको उनकी directory में शामिल करने के लिए अपनी website के लिए backlink create करने को कहती है।

Note: यह तरीका  इतना effective नहीं हैं पर इस प्रक्रिया में बहुत कम वक़्त लगता है. तो कुछ नहीं से होना, कुछ होना बेहतर हैं. 

यदि आप कोई automatic direct submission tactics को use कर रहें हैं तो उसे अभी बंद करें। Automatic Website Submission के कारण आपकी website spam के तौर पर appear होती है औए इससे आपको page की ranking में problem हो सकती है या आपका blog search engine से भी remove किया जा सकता है।

मुझे आशा है कि मेरे इस article की help से आपको  backlinks के basics clear हुए होंगे और आप अपने blog के लिए quality backlinks प्राप्त करना शुरू क्यों नहीं करते?

यदि आपको मेरा यह post अच्छा लगा तो कृपया अवश्य share कीजिये।

Leave a Comment

Translate »